सास-ससुर ने विधवा बहू का का किया कन्यादान, बेटे की मौत के देड़ साल बाद हुई शादी


हिमाचल प्रदेश में मंडी जिले (Mandi District) के सरकाघाट उपमंडल के बुजुर्ग संतोषी देवी और ब्रह्मदास ने अपनी 31 वर्षीय विधवा बहू (Widow) का विवाह (Re-Marriage) करवाकर एक मिसाल पेश की है. इस बुजुर्ग दंपति की इस दरियादिली से हर कोई तारीफ कर रहा है. सरकाघाट उपमंडल की रखोह पंचायत के गध्यानी गांव के निवासी संतोषी देवी और ब्रह्मदास ने डेढ़ वर्ष पहले एक हादसे में अपने नौजवान बेटे को खो दिया था. बेटे की मौत शादी के कुछ ही समय के बाद हो गई थी. भरी जवानी में बेटे के लिए ब्याह कर लाई गई बहू विधवा हो गई. विधवा बहू बीते डेढ़ वर्ष से अकेलेपन में अपनी जिंदगी काट रही थी, लेकिन बुजुर्ग दंपति से अपनी बहू का यह अकेलापन देखा नहीं जा रहा था. ऐसे में इस दंपति ने अपनी बहू की शादी करवाने की सोची.

हमीरपुर के नरेंद्र कुमार से कराई शादी

बुजुर्ग दंपति ने हमीरपुर जिले के चबूतरा गांव निवासी नरेंद्र कुमार पुत्र फितूरी राम के साथ अपनी बहू का रिश्ता करवाया. बीते शुक्रवार को शादी की तारीख तय की गई थी. दोनों बुजुर्ग दंपति ने अपने सगे संबंधियों के साथ घर पर बारात का स्वागत किया और पूरे विधि विधान के साथ अपनी बहू को बेटी की तरह विदा किया. ससुर ने अपनी बहू का कन्यादान किया.
यह भी पढ़ें: भाई के मरते ही भाभी के साथ सोने लगा देवर और हर दिन बनाने लगा संबंध...
सास-ससुर ने विधवा बहू का का किया कन्यादान, बेटे की मौत के देड़ साल बाद हुई शादी सास-ससुर ने विधवा बहू का का किया कन्यादान, बेटे की मौत के देड़ साल बाद हुई शादी Reviewed by Author on March 30, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.