गले में टॉन्सिल के लक्षण पहचान कर तुरंत करें ये घरेलू उपचार

टॉन्सिल के घरेलू उपचार



 काली मिर्च
इस समस्या को दूर करने के लिए काली मिर्च और तुलसी के पत्तों को उबाल कर गाढ़ा काढ़ा बना लें। रात को सोने से पहले इसे दूध में डालकर पीएं।

 शहद और दालचीनी
एंटीबैक्टीरियल गुणों सो भरपूर दालचीनी पाउडर और शहद को मिलाकर दिन में 3 बार सेवन करें। उससे गले में टॉन्सिल की समस्या दूर हो जाएगी।

 हल्दी
हल्दी, काला नमक और काली मिर्च में पानी डालकर उबाल लें। इसके बाद इस पानी से दिन में 2 बार गरारे करें। इससे आपकी समस्या कुछ दिनों में ही दूर हो जाएगी।

हर्बल चाय
ग्रीन टी में लौंग, इलायची और दालचीनी मिलाकर पीने से गले में जमे बैक्टीरिया और कीटाणु धीरे-धीरे मर जाते हैं, जिससे यह समस्या दूर हो जाती है। आप चाहें तो इसकी जगहें अदरक और शहद की चाय बनाकर भी पी सकते है।

 दूध
दूध में 1/2 टीस्पून हल्दी डालकर उबाल लें। इसके बाद इसमें मिश्री या शक्कर मिलाकर रात को सोने से पीएं। इसका सेवन करने से आपकी यह समस्या 2-3 दिन में दूर हो जाएगी।
यह भी पढ़ें: भाई के मरते ही भाभी के साथ सोने लगा देवर और हर दिन बनाने लगा संबंध...
गले में टॉन्सिल के लक्षण पहचान कर तुरंत करें ये घरेलू उपचार गले में टॉन्सिल के लक्षण पहचान कर तुरंत करें ये घरेलू उपचार Reviewed by Author on March 11, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.