मौत का दूसरा नाम है ये दवाईयां, आज से न करें इनका सेवन

कई बार हम बुखार या बॉडी पेन होने पर पैरासिटामोल ले लेते हैं। लेकिन अगर इसकी एक बार में एक (500mg) से ज्यादा मात्रा ले ली जाए तो यह हेल्थ पर बुरा असर भी डालती है। यह खासकर लिवर पर बुरा असर डालती है। इसलिए डॉक्टर की सलाह के बिना इस दवाई को न लें। 



1. पेरासिटामोल का उपयोग बार-बार करने से या ज्यादा मात्रा में लेने से लिवर की बीमारियां होने के खतरे बढ़ जाते है।

2. इसके अलावा इसका उपयोग अधिक मात्रा में लेने से किडनी के खराब होने की आशंका भी हो जाती है। इसलिए बड़ो से लेकर बच्चों तक के लिए एक निश्चित खुराक में ही इसका सेवन डॉक्टर के परामर्शानुसार ही करना चाहिए।

3. पेरासिटामोल की अधिकता हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी कम कर देती है। इसके साथ ही शरीर में एलर्जी और इन्फेक्शन की समस्या बढ़ने लगती है।

4. पेरासिटामोल का उपयोग अधिक मात्रा में करने से पेट संबंधी रोग बढ़ने लगते है। इससे पाचन क्रिया कमजोर होने लगती है पेट में गैस कब्जियत की शिकायत बढ़ने लगती है।
मौत का दूसरा नाम है ये दवाईयां, आज से न करें इनका सेवन मौत का दूसरा नाम है ये दवाईयां, आज से न करें इनका सेवन Reviewed by Author on February 10, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.