काली स्ट्रॉबैरी से लेकर काले बांस और काली गाजर तक, कुदरत के इन 9 काले करिश्मों को देखिए

01- अगर गाजर काले ही होते

Third party image reference
वैल, पता नहीं आप लोगों में से कितनों को ये बात मालूम है लेकिन गाजर सच में काले भी होते हैं। हालांकि ये बात अलग है कि काले गाजर बाज़ार में दिखाई बहुत ही कम देते हैं। भारत में अभी काले गाजर आम लोगों के बीच लोकप्रिय नहीं हैं। लेकिन कई देशों में लोग काले गाजरों को खाना ही पसंद करते हैं। इन गाजरों से बने पकवान भी काले ही दिखाई देते हैं।
02- काला बांस भी देख लो

Third party image reference
आपको हैरान करते हुए फिर से बता दें कि जी हां, बांस काले भी होते हैं। भारत में और दुनिया के अधिकतर देशों में बांस की फसल को जब हम देखते हैं तो ये हरे होते हैं जो कटने और सूखने के बाद मटियाले रंग के हो जाते हैं। लेकिन चीन के हुनान प्रांत में काले बांस भी पैदा होते हैं और इन काले बांस के बीजों को दुनिया में बेचा भी जाता है।
03- कैसा होता होगा काली स्ट्रॉबैरी का स्वाद?

Third party image reference
जी हां, बाज़ार में दिखने वाली लाल-लाल और रसभरी स्ट्रॉबैरी दुनिया के कई हिस्सों में काले रंग में भी मिल जाती हैं। और खास बात ये है कि वैज्ञानिकों ने काले रंग की स्ट्रॉबैरी को बिना किसी जेनेटिक मॉडिफिकेशन के तैयार किया है। यानि पूरी तरह से नेचुरल प्रक्रिया के तहत ही काली स्ट्रॉबैरी को तैयार किया गया है।
काली स्ट्रॉबैरी से लेकर काले बांस और काली गाजर तक, कुदरत के इन 9 काले करिश्मों को देखिए काली स्ट्रॉबैरी से लेकर काले बांस और काली गाजर तक, कुदरत के इन 9 काले करिश्मों को देखिए Reviewed by Author on February 01, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.