Asthma Symptoms In Hindi | अस्थमा के शरुआती लक्षण जानिये

अस्थमा क्या है तथा इसके लक्षण क्या है?

अस्थमा एक ऐसा रोग है जो मुख्य रूप से आपकी सांस की नलियों में बाधा पैदा कर देता है। इसके बाद आपको सांस लेने में काफी दिक्कत आयेगी तथा साथ ही अस्थमा अटैक भी पड़ेंगे।

asthma symptoms in hindi

यह अटैक इतने हानिकारक होते हैं कि अगर इनका एकदम से इलाज न किया जाये तो जान जाने की भी सम्भावना रहती है।

अस्थमा से सांस लेने में दिक्कत तो आती ही है इसके साथ ही व्यक्ति किसी भी काम को करने में असमर्थ हो जाता है। लेकिन आज हम आपको अस्थमा के प्रकार, अस्थमा के लक्ष्य, उपचार के बारे में बताएंगे

अस्थमा के प्रकार

अस्थमा एक ऐसी बीमारी है जिसके प्रकार भी होते हैं। अस्थमा के हर प्रकार का अपना-अपना प्रभाव तथा नुक्सान होता है। आईये देखते हैं अस्थमा कितने प्रकार का होता है।

1. आंतरिक अस्थमा
2. बाहरी अस्थमा

आंतरिक अस्थमा

आंतरिक अस्थमा होने का मुख्य कारण आपका खान-पान तथा आसपास का वातवरण होता है। आंतरिक अस्थमा के होने का कारण होता है कि आप या तो रसायनिक पदार्थों की चपेट में हैं या फिर आप धूम्रपान कर रहे हैं।

क्योंकि आंतरिक अस्थमा मुख्य रूप से धूम्रपान, रसायनिक पदार्थों का असर, प्रदूषण से होता है। यह बाहरी अस्थमा के मुकाबले ज्यादा खतरनाक होता है।

बाहरी अस्थमा

अस्थमा/दमा का यह प्रकार मुख्य रूप से जानवरों, धूल-कण तथा एलर्जी से होता है। बाहरी अस्थमा का symptoms ही एलर्जी है। लेकिन यह आंतरिक अस्थमा के मुकाबले में काफी कम खतरनाक होता है।

अस्थमा/दमा के लक्षण (Symptoms Of Asthma In Hindi)

asthma symptoms in hindi

Ist Symptoms Of Asthma In Hindi

अस्थमा का पहला लक्षण सुखी खांसी का होना या बलगम वाली खांसी का होना। यह खांसी करीब 4 हफ्ते से पहले हो जाती है। अगर समय रहते इस खांसी का इलाज न किया जाये तो यह धीरे-धीरे अस्थमा का रूप ले लेती है।

इसके साथ ही अगर आपको 2 हफ़्तों से ज्यादा खांसी रहती है तो उससे टीबी जैसे खतरनाक रोग होने की संभावना भी बढ़ जाती है। टीबी से कैसे छुटकारा पाया जा सकता है, जानने के लिए क्लिक जरूर करें।

यह भी पढ़ें : टीबी क्या है तथा केसै होता है और केसै इसका उपचार किया जा सकता है

2nd Symptoms Of Asthma In Hindi

अस्थमा का दूसरा लक्षण है सांस लेते समय कठिनाई का महसूस होना। अक्सर अस्थमा के दौरान सांस लेने में बेहद मुश्किल होती है। इसके साथ ही पूरे शरीर पर पसीना आने लगता है तथा दिल की धड़कन भी धीरे-धीरे तेज़ होने लगती है।

यही नहीं दिल या छाती में जकड़न होना, सांस का फूलना भी अस्थमा का symptoms है। अगर आपको ये लक्षण नज़र आते हैं तो एक बार डॉक्टर से जरूर सलाह लें।

3rd Asthma Symptom In Hindi

अस्थमा के बाकी लक्षण है - सांस लेने में दिक्कत का आना, सांस लेते समय घरघराहट होना, ठंडी हवा में सांस लेने पर दर्द का महसूस होना, उलटी का होना, heartburn, रात को सोते समय सांस का न आना ये सभी asthma के symptoms है।

क्या अस्थमा का इलाज तथा उपचार सम्भव है?

अस्थमा का इलाज सम्भव है लेकिन उसके लिए आपको काफी ज्यादा परहेज़ रहने पड़ेंगे।
1. वायु प्रदूषण से बचना होगा।
2. खाद्य पदार्थों पर ध्यान देना होगा।
3. धूम्रपान छोड़ें या धूम्रपान करने वाले व्यक्ति से दूरी बनाएं।
4. अधिक दवाईयों का सेवन करने से बचे।
5. शराब का सेवन न करें।
6. ठंडे पदार्थों का सेवन तथा शीतलपेय का सेवन बिलकुल भी न करें।
7. अधिक व्यायाम से बचे।
8. तनाव से दूर रहें

तो हमें asthma symptoms of hindi में बताया कि अस्थमा क्या है, इलाज, उपचार केसै सम्भव है? इसे अपने दोस्तों के साथ या अस्थमा से पीड़ित व्यक्ति तक जरूर पहुंचाएं।

Previous
Next Post »